जागते हैं हम – Jaagte Hain Hum (Sonu Nigam, Kavita Krishnamurthy, Khiladi 420)

Movie/Album: खिलाड़ी 420 (2000)
Music By: संजीव-दर्शन
Lyrics By: समीर
Performed By: सोनू निगम, कविता कृष्णमूर्ति

जागते हैं हम रात-रात भर
कर गई तेरी चाहतें असर
नींद खो गई, चैन खो गया
क्या करें हम प्यार हो गया
तुम हो बेखबर नहीं तुम्हें है कुछ खबर
जागते हैं हम…

हाल दिल का जाने जाना कैसे हम कहें
दूर तुमसे दूर तुमसे कैसे हम रहें
ना तुम्हें पता ना हमें पता
बेवजह हमें आ रहा मज़ा
बेकरार करने वाली आई है उमर
जागते हैं हम…

मार डाले ना हमें ये बेकरारियाँ
होश में ना आने देगी ये खुमारियाँ
छा रहा सनम प्यार का नशा
तुमको ना जाने हो गया ये क्या
दूर क्यों खड़ी है पास आ ज़रा इधर
जागते हैं हम…

Leave a Comment