चुपके चुपके Chupke Chupke Lyrics in Hindi – Mr. Mummy

Chupke Chupke Lyrics in Hindi the singer is Armaan Malik and Shilpa Rao song from Mr. Mummy (2022). This song is written by Kumaar & song music created by Rochak Kohli. The starcast are Ritesh Deshmukh and Genelia D’souza.

Chupke Chupke Lyrics Details

Chupke Chupke Lyrics in Hindi – Kumaar

हो फिर से मिलने की तारीख है
हम दूर और दिल नाज़दीक है
इश्क़ को दे मंज़ूरियां
होने पे ये फरियाद है
होने पे ये फरियाद है

चुपके चुपके रात दिन
आंसु बहना याद है
चुपके चुपके रात दिन
आंसु बहना याद है

हमको अब तक आशिकी का
वो जमाना याद है
चुपके चुपके रात दिन
आंसु बहना याद है

अधुरे अधूरे से इश्क को
आ मुक़म्मल करें
कल रे गई थी जो दिल में
बात वो पल पल करें

अधुरे अधूरे से इश्क को
आ मुक़म्मल करें
कल रे गई थी जो दिल में
बात वो पल पल करें

दूर तू ले जा ये दूरियां
पास तू है तो दिल ये अबद है
पास तू है तो दिल ये अबद है

चुपके चुपके रात दिन
आंसु बहना याद है

हो याद है जब नजरों से ट्यून
नशा मखमली सा
लबों से चुराया था

याद है क्या जुल्फों में ट्यून
उनग्लियों से जो बादल उदय था

फिर से तू कर ले गुस्ताखियां
इश्क करने को लम्हान ये आज़ाद है
इश्क करने को लम्हान ये आज़ाद है

हो हमको अब तक आशिकी का
वो जमाना याद है
चुपके चुपके रात दिन
आंसु बहना याद है

हम्म.. याद है
हम्म.. याद है

More Hindi Songs:
Chupke Chupke Raat Din – Ghulam Ali
क्या पता Kya Pataa
दम घुटता है Dum Ghutta Hai
क्या रे ज़िन्दगी Kya re Zindagi

Chupke Chupke Lyrics in English

Ho phir se milne ki tareekh hai
Hum door aur dil nazdeek hai
Ishq ko de de manzooriyan
Honthon pe yeh fariyaad hai
Honthon pe yeh fariyaad hai

Chupke chupke raat din
Aansu bahana yaad hai
Chupke chupke raat din
Aansu bahana yaad hai

Humko ab tak aashiqui ka
Woh zamana yaad hai
Chupke chupke raat din
Aansu bahana yaad hai

Adhure adhure se ishq ko
Aa muqammal karein
Kal reh gayi thi jo dil mein
Baat woh pal pal karein

Adhure adhure se ishq ko
Aa muqammal karein
Kal reh gayi thi jo dil mein
Baat woh pal pal karein

Door tu le jaa yeh dooriyan
Paas tu hai to dil yeh aabad hai
Paas tu hai to dil yeh aabad hai

Chupke chupke raat din
Aansu bahana yaad hai

Ho yaad hai jab nazron se tune
Nasha makhmali sa
Labon se churaya tha

Yaad hai kya zulfon mein tune
Ungliyon se jo baadal udaya tha

Phir se tu kar le gustakhiyan
Ishq karne ko lamhan yeh aazad hai
Ishq karne ko lamhan yeh aazad hai

Ho humko ab tak aashiqui ka
Woh zamana yaad hai
Chupke chupke raat din
Aansu bahana yaad hai

Hmm.. yaad hai
Hmm.. yaad hai

Leave a Comment